BTemplates.com

Header Ads

हमने जो की थी मोहब्बत वो आज भी है


हमने जो की थी मोहब्बत वो आज भी है,
तेरे जुल्फों के साये की चाहत आज भी है,
रात कटती है आज भी ख्यालों में तेरे,
दीवानों सी मेरी वो हालत आज भी है,
किसी और के तसब्बुर को उठती नहीं.
बेईमान आँखों में थोड़ी सी शराफत आज भी है। 

Post a Comment

0 Comments